सांसद किरोड़ीलाल का जयपुर कूच स्थगित, वार्ता के दौरान फैसला, सरकार बनाएगी सर्वदलीय समिति

दौसा. ईआरसीपी प्रोजेक्ट को लेकर राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीणा के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों के काफिले ने मंगलवार शाम करीब 4 बजे जयपुर के लिए कूच किया, लेकिन जयपुर से 40 किलोमीटर दूर जटवाड़ा में पुलिस ने इसे बैरिकेड लगाकर रोक लिया। देर शाम प्रभारी मंत्री विश्वेंद्र सिंह के साथ हुई बैठक के बाद डॉ. मीणा ने जयपुर कूच को फिलहाल स्थगित कर दिया।

डॉ. मीणा ने जलक्रांति नाम से यह आंदोलन शुरू किया है। उन्होंने ईआरसीपी की डीपीआर संशोधित कर केंद्र सरकार को भेजने की मांग गहलोत सरकार से की है। साथ ही, दौसा और आसपास के जिलों के बांधों को योजना में जुड़वाने की मांग कर रहे हैं। दौसा शहर से लालसोट रोड पर 15 किलोमीटर दूर सुबह 9 बजे से ही लोग जुटने लगे थे। दोपहर करीब 12 बजे डॉ. मीणा, भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़, अरुण चतुर्वेदी व गोलमा देवी भी पहुंच गए। इसके बाद यहां हुई जनसभा में ईआरसीपी योजना को लेकर राज्य सरकार की नीयत पर सवाल उठाए गए।

शाम 4 बजे किरोड़ीलाल मीणा लोगों के साथ जयपुर कूच के लिए निकले लेकिन जटवाड़ा में रोक लिए गए। 6 बजे तक यहां काफी संख्या में आंदोलनकारी रुके रहे। लोग नारेबाजी करते रहे। डॉ. मीणा सहित अन्य नेता वहीं धरने पर बैठ गए। यहां प्रभारी मंत्री विश्वेंद्र सिंह से शाम को वार्ता हुई। जहां दो दिन में कमेटी बनाने पर सहमति बनी। समिति योजना की कमियों के बारे में सरकार जानकारी लेगी। इसके बाद जयपुर कूच स्थगित कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *