राजस्थान में पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले ISI के 2 जासूस गिरफ्तार

जयपुर. राजस्थान इंटेलिजेंस ने ISI के दो जासूसों को शनिवार रात गिरफ्तार किया है। दोनों जासूस भीलवाड़ा और पाली में स्थानीय एजेंट्स है। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के अफसरों के इशारों पर इंडियन आर्मी की सूचनाएं भेज रहे थे।

इनमें से एक महिला के नाम से भारतीय सेना के जवानों से दोस्ती करता था। फिर सूचनाएं प्राप्त करता था। सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तान भेजी सूचनाओं के एवज में दोनों जासूसों के बैंक अकाउंट में यूपीआई के जरिए रुपए भी ट्रांसफर हुए हैं।

डीजी (इंटेलीजेंस) उमेश मिश्रा ने बताया कि राजस्थान सीआईडी इंटेलिजेंस पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की ओर से राजस्थान में की जाने वाली जासूसी गतिविधियों पर निगरानी रख रही है। इसे ऑपरेशन सरहद नाम दिया गया है। ऑपरेशन सरहद के तहत साल 2022 में अभी तक 6 प्रकरण दर्ज कर जासूसों को पकड़ा गया है।

इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर भीलवाड़ा के बेमाली निवासी नारायण लाल गाडरी (27) को भीलवाड़ा और विराटनगर जयपुर के गांव सुरजपुरा निवासी कुलदीप सिंह शेखावत (24) को जैतारण पाली से गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी कुलदीप सिंह शेखावत जैतारण पाली में आनन्दपुर-कालु शराब दुकान पर सेल्समैन है। दोनों के सोशल मीडिया अकाउंट्स के जरिए पाकिस्तान खुफिया एजेंसी से निरंतर कॉन्टैक्ट होने की जानकारी इंटेलिजेंस को मिली थी। सीआईडी इंटेलिजेंस पिछले काफी समय से दोनों जासूसों की गतिविधियों पर लगातार नजर रखे हुई थी। ISI के स्थानीय एजेंट जासूस नारायण लाल और कुलदीप सिंह को गिरफ्तार किया गया। इंटेलिजेंस टीम दोनों जासूसों से पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *