हेराल्ड हाउस में ईडी ने सील किया यंग इंडियन का कार्यालय

  • सोनिया-राहुल के आवास पर भारी पुलिस बल तैनात

नई दिल्ली. नेशनल हेराल्ड मामले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को दिल्ली स्थित हेराल्ड हाउस में यंग इंडियन कंपनी के कार्यालय को सील कर दिया। इस बीच, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के यहां 10 जनपथ आवास पर पुलिस बंदोबस्त बढ़ा दिया है।

धन शोधन निवारक अधिनियम (पीएमएलए) के तहत आने वाले मामलों की जांच करने वाली ईडी ने बीते दो दिनों में नेशनल हेराल्ड के देश भर में विभिन्न ठिकानों पर तलाशी ली थी। इसके विरोध में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने नई दिल्ली में बहादुरशाह मार्ग स्थित हेराल्ड हाउस पर प्रदर्शन किया था। इन प्रदर्शनों के बाद एजेंसी ने इस भवन में यंग इंडियन कंपनी के कार्यालय को अस्थाई रूप से सील कर दिया। नेशनल हेराल्ड और उसके अनुषंगी प्रकाशनों का स्वामित्व इसी कंपनी के अधीन है।

वरिष्ठ नेता पहुंचे कांग्रेस मुख्यालय
दस जनपथ पर शाम को पुलिस बंदोबस्त बढ़ाए जाने के कुछ ही देर में पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, सलमान खुर्शीद, दिग्विजय सिंह, पी चिदंबरम, अभिषेक मनु सिंघवी और कुछ अन्य वरिष्ठ नेता कांग्रेस के मुख्यालय 24-अकबर रोड पहुंच गए। कांग्रेस मुख्यालय सोनिया के आवास के पास है। ईडी ने हिदायत दी है कि उसकी अनुमति के बगैर यंग इंडियन के कार्यालय को नहीं खोला जा सकता है।

गौरतलब है कि नेशनल हेराल्ड मनी लॉड्रिंग मामले में सोनिया गांधी और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से कई दौर की पूछताछ हुई है। यंग इंडियन कंपनी में सोनिया गांधी के 38 प्रतिशत शेयर हैं और राहुल के भी इसमें 38 फीसदी शेयर हैं। इस कंपनी के माध्यम से नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र समूह का परिचालन करने वाली एसोसिएटेड जर्नल्स लि (एजेएल) का अधिग्रहण किया था। इस कंपनी के अन्य शेयर धारकों में कांग्रेस नेता मोती लाल बोरा और आॅस्कर फनार्डीज भी थे।

यह बदले की राजनीति: जयराम
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता जयराम रमेश ने इस बीच ट्वीट किया, ‘पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के आवास को घेर लिया है। यह बदले की राजनीति है।’

कांग्रेस सदस्यों ने किया वॉकआउट
इससे पहले राज्य सभा में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने सोनिया और राहुल के आवास की पुलिस घेराबंदी का मामला उठाने का प्रयास किया। डोपिंग रोधी विधेयक पर खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के जवाब के दौरान उन्होंने यह मामला उठाने का प्रयास किया लेकिन उप सभापति हरिवंश ने इसकी अनुमति नहीं दी। सदन के नेता पीयूष गोयल ने कहा कि कानूनी एजेंसियां अपना काम कर रही हैं, सरकार उनके काम में हस्तक्षेप नहीं करती। इस पर कांग्रेस के सदस्य सदन से उठकर चले गए।

बीजेपी हमें डराना चाहती है: माकन
ईडी की कार्रवाई के बाद कांग्रेस नेता अजय माकन ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर कहा कि यह विनाश काल है, विनाश काले विपरीत बुद्धि। बीजेपी हमें डराना चाहती है, लेकिन हम जनता के मुद्दों पर आवाज उठाते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *