एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री, देवेंद्र फडनवीस ने उप-मुख्यमंत्री पद की ली शपथ

  • शिंदे ने शपथ की शुरुआत बाला साहेब ठाकरे के जयकारे से की

मुंबई. महाराष्ट्र की राजनीति में गुरुवार को नाटकीय घटनाक्रमों के बीच शिवसेना के बागी गुट के नेता एकनाथ शिंदे ने भाजपा के समर्थन से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और स्वयं सरकार में शामिल न होने की घोषणा के चंद घंटों बाद ही भाजपा के नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। शपथ के घंटेभर बाद दोनों ने कैबिनेट मीटिंग भी बुला ली। ये सबकुछ महज पांच घंटे के भीतर हुआ।

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राजभवन में शाम 7.30 बजे आयोजित एक समारोह में शिंदे और फडनवीस को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने की शुरूआत बालासाहेब ठाकरे के जयकारे से की। शपथ लेते ही एकनाथ शिंदे की ट्विटर एकाउंट की प्रोफाइल फोटो बदल गई। एकनाथ शिंदे बालासाहेब ठाकरे के ‘चरणों में बैठे’ दिखाई दिए। इससे पहले एकनाथ शिंदे के ट्विटर प्रोफाइल पर उनकी खुद की तस्वीर लगी हुई थी।

शिंदे गुरुवार को गोवा से लौटे थे और फडनवीस के साथ राज्यपाल से मुलाकात की थी और सरकार बनाने का दावा पेश किया और उसके तुरंत बाद फडनवीस ने शिंदे को मुख्यमंत्री बनाए जाने की सहमति की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि वह स्वयं सरकार में शामिल नहीं होंगे लेकिन मुख्यमंत्री और उनकी सरकार के काम में पूरा सहयोग करेंगे।

भाजपा के निर्देश पर फडनवीस ने ली उपमुख्यमंत्री पद की शपथ
उनके बयान के बाद भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने दिल्ली में कहा कि फडनवीस को सरकार में शामिल होना चाहिए। उन्होंने बताया कि भाजपा ने फडनवीस को उप-मुख्यमंत्री की शपथ लेने के लिए निर्देशित किया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया भाजपा अध्यक्ष जे.पी.नड्डा के कहने पर देवेंद्र फडनवीस ने बड़ा मन दिखाते हुए महाराष्ट्र राज्य और जनता के हित में सरकार में शामिल होने का निर्णय लिया है। फडनवीस का यह निर्णय महाराष्ट्र के प्रति उनकी सच्ची निष्ठा एवं सेवाभाव का परिचायक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *