द्रौपदी मुर्मू आज लेंगी शपथ, देश को मिलेगी पहली आदिवासी राष्ट्रपति, 21 तोपों से दी जाएगी सलामी

नई दिल्ली. नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद की शपथ लेंगी। वह देश की 15वीं, सबसे युवा और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति होंगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि शपथ समारोह सुबह 10:15 बजे संसद के सेंट्रल हॉल में होगा। सीजेआई एन. वी. रमणा उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे। इसके बाद उन्हें 21 तोपों की सलामी दी जाएगी। शपथ ग्रहण के बाद नई राष्ट्रपति देश को संबोधित करेंगी।

मौसम को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम की तैयारियां की गई हैं। अगर आज बारिश हो जाती है तो राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में होने वाला औपचारिक समारोह आयोजित नहीं किया जाएगा।

समारोह के बाद दिया जाएगा गार्ड ऑफ ऑनर
संसद के सेंट्रल में समारोह के समापन के बाद द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगी, जहां उन्हें एक इंटर-सर्विस गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा और निवर्तमान राष्ट्रपति का शिष्टाचार सम्मान किया जाएगा।

समारोह में इन्हें आमंत्रित किया गया
शपथ ग्रहण समारोह से पहले निवर्तमान राष्ट्रपति और निर्वाचित राष्ट्रपति संसद पहुंचेंगे। उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, मंत्रिपरिषद के सदस्य, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राजनयिक मिशनों के प्रमुख, संसद सदस्य और सरकार के प्रमुख असैन्य एवं सैन्य अधिकारी समारोह में शामिल होंगे।

ऐसा है शपथ ग्रहण समारोह का कार्यक्रम
नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू अपने अस्थायी आवास उमा शंकर दीक्षित लेन से राजघाट के लिए सुबह 8:15 बजे रवाना होंगी। वह 8:30 बजे राजघाट पहुंचेंगी। करीब 10 मिनट वहां रुकने के बाद वह 8:40 बजे लौट आएंगी. इसके बाद वह 9:22 बजे राष्ट्रपति भवन जाएंगी।

जानकारी के मुताबिक अगर बारिश न हुई तो सुबह 9:42 बजे राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में समारोह आयोजित किया जाएगा। इसके बाद मुर्मू राष्ट्रपति भवन के प्रांगण से औपचारिक राष्ट्रपति के काफिले में सुबह 9:50 बजे रवाना होंगी।

सुबह 10 बजे तक संसद भवन के गेट 5 पर पहुंचेंगी। यहां से उन्हें पीएम नरेंद्र मोदी, स्पीकर और राज्यसभा के सभापति सेंट्रल हॉल तक ले जाएंगे। यहां राष्ट्रगान के बाद उन्हें शपथ दिलायी जाएगी। फिर वह 10:23 बजे सेंट्रल हॉल में सभा को संबोधित करेंगी। इसके बाद वह 10:57 बजे राष्ट्रपति भवन लौट आएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *