देश में 24 घंटे में कोरोना के 22,775 नए केस, Omicron का आंकड़ा 1430 के पार

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की पहली और दूसरी लहर की तबाही के बाद तीसरी लहर के आने की खबर से ही रोंगटे खड़े हो जा रहे हैं। इस बीच इसका एक और वैरिएंट ओमिक्रॉन अलग चिंता का विषय बना हुआ है। इस समय देश में ओमिक्रॉन के मामले बढ़कर 1431 हो चुके हैं। इसमें सबसे ज्यादा 454 मामले महाराष्ट्र में पाए गए हैं। दुनियाभर में पांव पसार रहा ओमिक्रॉन इस समय देश के 23 राज्यों में दस्तक दे चुका है।

इधर कोरोना की बात करें तो बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 22,775 मामले सामने आए हैं जबकि 406 लोगों की मौत हुई है। इस समय देश में कोरोना का सक्रिय केसलोड 1,04,781 है। हालांकि रिकवरी रेट 98.32% पर बना हुआ है। शीर्ष पांच राज्य जिन्होंने अधिकतम कोरोना मामले दर्ज किए हैं, उनमें महाराष्ट्र में 8,067 मामले हैं, इसके बाद पश्चिम बंगाल में 3,451 मामले, केरल में 2,676 मामले, दिल्ली में 1,796 मामले और तमिलनाडु में 1,155 मामले हैं।

24×7 रैपिड एंटीजन टेस्ट बूथ का सुझाव
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों से अपने यहां विभिन्न स्थानों पर 24×7 रैपिड एंटीजन टेस्ट बूथ लगाने का सुझाव दिया है। कहा गया है कि बुखार, गले में खराश, दस्त, सांस फूलने वालों का कारोना टेस्ट कराया जाए। उधर, नए साल के पूर्व संध्या पर कई राज्यों ने अपने यहां कोरोना के मामलों में भारी बढ़ोतरी की जानकारी दी है। महाराष्ट्र में कोरोना के 8 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए गए जबकि पश्चिम बंगाल में करीब 3500 जबकि नई दिल्ली में 1700 से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आए।

‘जल्द ही महाराष्ट्र में दो लाख एक्टिव केस की आशंका’
महाराष्ट्र सरकार की ओर से कहा गया है कि कोरोना कोरोना की रफ्तार को देखते हुए जनवरी के तीसरे सप्ताह तक राज्य में दो लाख एक्टिव केस होने की आशंका है। वहीं महाराष्ट्र सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) डॉक्टर प्रदीप व्यास ने कहा है कि ओमिक्रॉन के लक्षण हल्के होते हैं, इसलिए ये न समझें कि तीसरी लहर घातक नहीं होगी। यह उन लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक हैं जिन्हें वैक्सीन नहीं लगी है। इसलिए टीकाकरण में रफ्तार लाने की जरुरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *