Kota: ट्यूशन गई नाबालिग छात्रा की हत्या, बंद कमरे में मिला शव, ट्यूशन टीचर फरार

कोटा. कोतवाली थाना क्षेत्र के बजाज खाना इलाके में रविवार को ट्यूशन पढ़ने गई 16 वर्षीय नाबालिग बालिका ट्यूशन टीचर के घर के कमरे में संदिग्ध अवस्था में मृत मिली। कमरा बाहर से बंद था तथा अंदर कमरे में छात्रा के हाथ बंधे हुए थे तथा गले में रस्सी लगी हुई थी। वहीं ट्यूशन टीचर भी फरार है।
परिजनों ने बताया कि बालिका टीचर गौरव जैन के पास पिछले तीन साल से ट्यूशन जा रही थी। रविवार सुबह 10 बजे से 11 बजे तक कोचिंग पढ़ने के लिए गई हुई थी।

टीचर के परिजन कुन्हाड़ी में शादी समारोह में शामिल होने गए हुए थे। जब बालिका 12 बजे तक भी घर नहीं पहुंची तो परिजनों को चिंता हुई। इसी दौरान बालिका की मां के पास टीचर का फोन आया कि एक्सट्रा क्लास होने के चलते वह 1 बजे तक आएगी। लेकिन जब 1 बजे तक भी नहीं आई तो उसके पिता बालिका की तलाश में ट्यूशन टीचर के घर पहुंचे तो वहां ताला लगा हुआ था। इधर उधर देखने पर बालिका की चप्पल वहीं मिली तो संदेह हुआ और परिजनों ने कुछ लोगों की मदद से ताला तोड़ा और अंदर कमरे में देखा तो उनके होश उड़ गए।

बालिका संदिग्ध अवस्था में वहां पड़ी हुई थी, उसके दोनों हाथ बंधे हुए थे तथा गले में रस्सी बंदी हुई थी। परिजन उसे तुरंत निजी अस्पताल लेकर गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया। गौरव जैन भी घटना के बाद फरार मिला। बालिका की मौत की सूचना पर एडिशनल एसपी मुख्यालय राजेश मील, पुलिस उप अधीक्षक अमर सिंह, कोतवाली थानाधिकारी हंसराज मीणा मौके पर पहुंचे और पूरी स्थिति का जायजा लिया। वहीं एफएसएल टीम ने भी साक्ष्य जुटाए हैं।

घर से नौ हजार रुपए लेकर भागा ट्यूशन टीचर
परिजनों ने बताया कि बालिका के शरीर के कई हिस्से पर खरोंच के अनगिनत निशान हैं। बालिका के गले, शरीर, पैर हाथ सहित अन्य जगह खरोंचे हैं। शहर पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया कि मामला प्रथम दृष्टया हत्या का है। ट्यूशन टीचर भी मौके से फरार है, उसके मोबाइल व अन्य संसाधनों से उसकी तलाश की जा रही है। टीचर अपने घर से भी 9 हजार रुपए लेकर फरार हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *