Kota: भाजपा विधायकों व कार्यकर्ताओं ने आईजी आवास पर डाला डेरा

कोटा. भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के वाहन रोकने के मामले को लेकर कांगे्रस कार्यकर्ताओं पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज करने और शामिल लोगों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग को लेकर भाजपा विधायक चन्द्रकांता मेघवाल, मदन दिलावर, संदीप शर्मा, पूर्व विधायक हीरालाल नागर, शहर भाजपा अध्यक्ष रामबाबू सोनी के नेतृत्व में भाजपा नेताओं ओर कार्यकर्ताओं ने सिविल लाइन स्थित आईजी के आवास के बाहर शाम 6.45 बजे से धरना शुरू कर दिया गया।

धरने को समर्थन देने के लिए सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता एकत्रित हो गए। इधर अचानक आईजी आवास पर भाजपा कार्यकर्ताओं के पहुंचने से प्रशासन और पुलिस अधिकारियों में हड़कप मच गया। भारी संख्या में पुलिस बल आईजी कार्यालय पर पहुंच गया। पुलिस अधिकारियों ने भाजपा नेताओं से समझाइश करने की कोशिश की। पुलिस अधिकारियों ने भाजपा नेताओं से कहा कि तालेड़ा में मुकदमा दर्ज हो गया है, जांच करने के बाद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इस पर भाजपा नेताओं ने पुलिस अधिकारियों के सामने शर्त रख दी कि कांगे्रस के नेताओं ने प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया पर जानलेवा हमला किया है। उन पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज हो ओर आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाए, तभी हम यहां से उठेंगे, वरना धरना जारी रहेगा। भाजपा की ओर से शाम का खाना भी धरना स्थल पर खिलाया गया, साथ ही सोने के लिए बिस्तर पर मंगवा लिए गए थे। धरना देर रात तक जारी रहा।

भाजपा नेताओं की हो रही बेकद्री, इसलिए याद आ रहे जूते: अमित धारीवाल
कांग्रेस नेता व समाजसेवी अमित धारीवाल ने कहा कि भाजपा नेताओं को जूते इसलिए ज्यादा याद आ रहे हैं क्योंकि आजकल उनके नेताओं की बेकद्री हो रही है। शोक सभा में बैठने आए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के दिमाग से जूते नहीं निकल रहे। वरिष्ठ भाजपा नेताओं की हो रही बेकद्री से सबको पता चल चल गया है कि भाजपा का संगठन, विचारधारा किस प्रकार की है। धारीवाल ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष अपनी पार्टी और अपने पद की सोचें, क्योंकि उनकी छुट्टी कभी भी हो सकती है। कांग्रेस नेता दुष्यन्त गहलोत ने बयान की घोर निंदा की है। इस भड़काऊ बयान से कांग्रेस कार्यकर्ताओ एवं अंसगठित कामगार एवं कर्मचारी कांग्रेस एवं युवा कांग्रेसियों में रोष व्याप्त है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं की हरकत नहीं होगी बर्दाश्त: संदीप शर्मा
विधायक संदीप शर्मा ने चेतावनी दी है कि यदि इस तरह की गतिविधियां की जाएगी तो भाजपा कार्यकर्ता कांग्रेस के किसी भी मंत्री को कोटा जिले में प्रवेश नहीं करने देंगे। वह किसी राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने नहीं आए थे, ऐसे में इस तरह की घटना से पूरे देश भर में कोटा को शर्मनाक होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि हम स्वच्छ राजनीति में विश्वास करते हैं। कायराना हरकतें करने वालों के खिलाफ उन्होंने पुलिस प्रशासन को भी कारवाई करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता भी यदि इस तरह करेंगे तो कांग्रेस का एक भी नेता और मंत्री कोटा में प्रवेश नहीं कर पाएगा।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध कायराना हरकत : हनी
भाजपा नेता इन्द्रमोहन सिंह हनी ने कहा है कि कोटा में भाजपा कांग्रेस नेता एक दूसरे के साथ सद्भाव के साथ रहते हैं। यदि इस तरह की गतिविधियां की जाएगी तो भाजपा कार्यकर्ता कांग्रेस के किसी भी मंत्री को कोटा जिले में प्रवेश नहीं करने देगा। घटना को शर्मनाक एवं कोटा के लिए निंदनीय बताया और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *