एक्ट्रेस साई पल्लवी ने कश्मीरी पंडितों पर ऐसा क्या कह दिया कि छिड़ गया विवाद

नई दिल्ली. साउथ सिनेमा की मशहूर एक्ट्रेस साई पल्लवी अपने बेबाक और बिंदास एटीट्यूड के लिए जानी जाती हैं। एक्ट्रेस इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म Virata Parvam को लेकर चर्चा में हैं। साई अपनी फिल्म का जमकर प्रमोशन कर रही हैं। हाल ही में फिल्म के प्रमोशनल इवेंट के दौरान एक इंटरव्यू में साई पल्लवी ने कश्मीरी पंडितों को लेकर कुछ ऐसा कह दिया, जिसे लेकर सोशल मीडिया पर विवाद छिड़ गया है।

साई पल्लवी के बयान पर विवाद
साई पल्लवी ने अपने लेटेस्ट इंटरव्यू में बॉलीवुड फिल्म द कश्मीर फाइल्स (The Kashmir Files) में कश्मीरी पंडितों पर दिखाए गए अत्याचार और उनकी हत्या के सीन की तुलना मॉब लिंचिंग से की है। साई पल्लवी के इस विवादित बयान पर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है। कुछ लोग साई पल्लवी के बयान पर उनको सपोर्ट कर रहे हैं, तो वहीं कुछ लोग उनपर भड़क रहे हैं।

एक यूट्यूब चैनल को दिए इंटरव्यू में साई पल्लवी ने कहा- मैं एक न्यूट्रल एनवायरनमेंट में बड़ी हुई हूं। मैंने लेफ्ट विंग और राइट विंग के बारे में बहुत कुछ सुना है। लेकिन मैं ये नहीं कह सकती कि कौन सही है और कौन गलत।

साई ने आगे कहा- द कश्मीर फाइल्स फिल्म में दिखाया गया है कि कश्मीरी पंडितों की किस तरह हत्या की गई। वहीं, कुछ समय पहले गाय ले जाने वाले मुस्लिम शख्स को बड़ी बेदर्दी से पीटकर उससे जय श्री राम के नारे लगाने को कहा गया था। यह भी धर्म के नाम पर हिंसा है। अब इन दोनों घटनाओं में अंतर क्या है?

देखें साई पल्लवी का इंटरव्यू

साई पल्लवी ने बताया कि उनकी फैमिली ने उन्हें हमेशा एक अच्छा इंसान बनने की सीख दी है। एक्ट्रेस ने कहा- आपको पीड़ितों की रक्षा करने की जरूरत है। अगर आप एक अच्छे इंसान हैं, तो आपको नहीं लगता कि वह सही हैं। ” साई ने यह भी कहा- मैं न्यूट्रल रहती हूं और पीड़ितों के लिए खड़े होने की कोशिश करती हूं। मेरा मानना है कि केवल दो एक समान लोगों के बीच लड़ाई हो सकती है, दो अलग लोगों के बीच नहीं।

साई पल्लवी के इंटरव्यू की क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। एक्ट्रेस के बयान ने लोगों को दो ग्रुप में बांट दिया है। कुछ लोग साई पल्लवी की बात पर सहमति जता रहे हैं, तो वहीं कई लोग उनके इस बयान को बेहूदा बताकर एक्ट्रेस पर भड़क रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *