27 साल बाद Internet Explorer को बंद करेगा माइक्रोसॉफ्ट

नई दिल्ली. माइक्रोसॉफ्ट ने 27 साल की सेवा के बाद अपने सबसे पुराने ब्राउजर Internet Explorer को बंद करने की घोषणा की है। माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि वह पुराने ब्राउजर के लिए मैनस्ट्रीम सपोर्ट को समाप्त कर देगा। इसे पहली बार 1995 में विंडोज 95 के लिए ऐड-ऑन पैकेज के रूप में जारी किया गया था। ब्राउजर को माइक्रोसॉफ्ट पैकेज के साथ मुफ्त में प्रदान किया गया था। कंपनी की अधिसूचना के अनुसार Internet Explorer 15 जून 2022 से काम करना बंद कर देगा।

कंपनी ने कहा, ‘विंडोज 10 पर इंटरनेट एक्सप्लोरर की सेवाएं अब माइक्रोसॉफ्ट एज में मिलेंगी। माइक्रोसॉफ्ट एज इंटरनेट एक्सप्लोरर की तुलना में एक तेज, अधिक सुरक्षित और अधिक आधुनिक ब्राउजर है। माइक्रोसॉफ्ट एज में इंटरनेट एक्सप्लोरर मोड (IE mode) दिया गया है, जिससे आप इंटरनेट एक्सप्लोरर-आधारित वेबसाइटों और एप्लिकेशन को सीधे माइक्रोसॉफ्ट एज से एक्सेस कर सकेंगे।

Internet Explorer की जगह माइक्रोसॉफ्ट एज
जो लोग अभी भी इंटरनेट एक्सप्लोरर का उपयोग कर रहे हैं कंपनी ने उनसे 15 जून, 2022 से पहले माइक्रोसॉफ्ट एज का इस्तेमाल करने की सिफारिश की है। कंपनी ने कहा कि आप इंटरनेट एक्सप्लोरर की जगह अब माइक्रोसॉफ्ट एज पर जाएं। यह इंटरनेट एक्सप्लोरर की तुलना में एक तेज, अधिक सुरक्षित और अधिक आधुनिक ब्राउजर है।

डिवाइस पर पहले से ही मौजूद माइक्रोसॉफ्ट एज
माइक्रोसॉफ्ट एज आपके डिवाइस पर पहले से ही मौजूद है। विंडोज 10 सर्च बॉक्स का उपयोग करके माइक्रोसॉफ्ट एज करें। यदि आपके पास यह नहीं है, तो आप इसे आसानी से डाउनलोड भी कर सकते हैं। कपंनी ने कहा कि एक बार जब आप माइक्रोसॉफ्ट एज में जाने का विकल्प चुनते हैं, तो कुछ ही क्लिक में इंटरनेट एक्सप्लोरर से अपने पासवर्ड, पसंदीदा और अन्य ब्राउज़िंग को ट्रांस्फर कर सकते हैं। अगर आप किसी ऐसी साइट पर जाते हैं, जिसे खोलने के लिए इंटरनेट एक्सप्लोरर की जरूरत होती है, तो माइक्रोसॉफ्ट एज में इंटरनेट एक्सप्लोरर मोड बिल्ट-इन है, ताकि आप अभी भी इसे एक्सेस कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *