Bundi: हिण्डोली में ‘अशोक’, चांदना के प्रयास, गहलोत की सौगातें

मुख्यमंत्री ने हिंडोली विधानसभा क्षेत्र के लिए 1133 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास किया

बूंदी. हाड़ौती में शनिवार के दिन ‘अशोक’ छाए रहे। बूंदी जिले के हिण्डोली विधानसभा क्षेत्र में स्थानीय विधायक तथा खेल एवं युवा मामलात तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्य मंत्री अशोक चांदना की मेजबानी में प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जादू बिखेरा। चांदना के प्रयासों से तैयार जमीन पर गहलोत ने विकास का पौधा रोपा। अशोक गहलोत शनिवार को हिण्डोली में लगभग 1132.83 करोड़ के विकास कार्यों के शिलान्यास किए।

इस अवसर पर गहलोत ने एक बार फिर जादू दिखाते हुए कहा कि कहा कि कोविड के कारण दो वर्षों तक नौकरी के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं समय पर आयोजित नहीं हो सकीं। इसलिए आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में ऐसे वंचित अभ्यर्थियों को अधिकतम आयु सीमा में दो वर्षों की छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार की विभिन्न योजनाओं के केन्द्र में युवा और छात्र हैं। प्रदेश का अगला बजट भी इन्हीं को समर्पित होगा।

इन कार्यों का शिलान्यास
उन्होंने 974 करोड़ रूपए लागत की हिण्डोली-नैनवां चम्बल पेयजल परियोजना, 21 करोड़ लागत के नर्सिंग कॉलेज, 10.50 करोड़ की लागत के आईटीआई, 6.50 करोड़ की लागत के कृषि महाविद्यालय व 4.50 करोड़ की लागत के राजकीय महाविद्यालय का शिलान्यास किया। वहीं 117 करोड़ की तीन प्रमुख सड़कों का भी मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया।

केदारनाथ त्रासदी के मृतक आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति
गहलोत ने कहा कि वर्ष 2013 की केदारनाथ त्रासदी में जान गंवाने वाले एवं स्थाई रूप से लापता हुए निवासियों के आश्रितों में कुछ लोगों को नियुक्ति दे दी गई थी, लेकिन सरकार बदलने के बाद इन नियुक्तियों को रद्द कर दिया गया था। केदारनाथ त्रासदी के पीड़ितों के पात्र परिजनों को पुन:अनुकंपा नियुक्ति दी जाएगी।

मेडिकल कॉलेज के लिए 147 करोड़
मुख्यमंत्री ने कहा कि बूंदी में नए मेडिकल कॉलेज के लिए 63 बीघा जमीन आवंटन के साथ 147 करोड़ से अधिक की राशि मंजूर की जा चुकी है। वहीं हिण्डोली कॉलेज के लिए 15 एकड़ भूमि के साथ 4.50 करोड़ का बजट उपलब्ध कराया गया है। सरकार द्वारा 210 नए राजकीय महाविद्यालय खोले गए है, जिनमें 96 कन्या महाविद्यालय शामिल हैं। वहीं 675 नए निजी महाविद्यालयों के लिए एनओसी जारी की गई है।

मिलेगा पीने का पानी
हिण्डोली-नैनवां चम्बल पेयजल परियोजना से हिंडोली के 185 गांव और 198 ढाणियां तथा नैनवा शहर में 101 गांव और 89 ढाणियों को पेयजल उपलब्ध होगा। परियोजना के तहत 7 स्वच्छ जलाशय और पम्प हाउस, 70 उच्च जलाशय मुख्य स्वच्छ जल की करीब 575 किलोमीटर पाइप लाइन और मुख्य वितरण की करीब 742 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जाएगी और 82 हजार से अधिक घरेलू कनेक्शन दिए जा सकेंगे।

हर क्षेत्र में विकसित होगा हिण्डोली-नैनवां: चांदना
खेल एवं युवा मामलात तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्य मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि हिण्डोली-नैनवां विधानसभा क्षेत्र में 1133 करोड़ के कार्यों की एक साथ सौगात से इलाके में शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़कों और पेयजल की तस्वीर बदल जाएगी। उन्होंने कहा कि लोगों को पानी लाने के लिए दूर-दूर तक जाना पड़ता था, लेकिन अब चंबल नदी का पानी आपके घर पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि नर्सिंग, एग्रीकल्चर और आईटीआई सहित चार कॉलेज खुलने से शिक्षा की अलख जगेगी। इससे हिण्डोली-नैनवां हाड़ौती क्षेत्र में शिक्षा के हब के रूप में उभरेगा।

1.35 करोड़ महिलाओं को बनाया घर का मुखिया
गहलोत ने कहा कि पूरे देश में चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की चर्चा हो रही है। इस योजना में प्रति परिवार 10 लाख तक के सालाना बीमे का प्रावधान है। ट्रांसप्लांट में 10 लाख रूपए की सीमा लागू नहीं होती है। ट्रांसप्लांट का सारा खर्चा सरकार द्वारा वहन किया जाता है। अब तक 18 लाख से अधिक मरीजों कोे 2202 करोड़ रुपए की कैशलेस सुविधा दी गई है। राज्य सरकार ने 1.35 करोड़ महिलाओं को घर का मुखिया बनाने का कार्य किया है। अब इन्हें निशुल्क स्मार्ट फोन वितरित किए जाएंगें।

ये रहे मौजूद
इस अवसर पर कृषि मंत्री लालचंद कटारिया, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली, गृह राज्य मंत्री राजेन्द्र यादव, पीपल्दा विधायक रामनारायण मीणा, आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेद्र राठौड़, जिला प्रमुख चन्द्रावती कंवर, उप जिला प्रमुख बंशीलाल मीणा, पूर्व वित्त राज्यमंत्री हरिमोहन शर्मा, पूर्व जिला प्रमुख राकेश बोयत, पूर्व विधायक सीएल प्रेमी, पूर्व विधायक सूर्य कुमार जैन, दिनेश शर्मा, रामपाल शर्मा, प्रतिष्ठा यादव, युवा बोर्ड उपाध्यक्ष सुशील पारीक, क्रीड़ा परिषद उपाध्यक्ष सतवीर चौधरी, ओमप्रकाश जैन, भानुप्रताप सिंह, सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी व जनसमूह मौजूद रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *